Recent News

फॉर्म : अपने गाँव को एप्प पर अपडेट करे

Find Recent News of Aanjana Samaj Here


  • 1. आँजणा (चौधरी) समाज निर्देशिका के विमोचन
  • 2. सूचना :- CAPS के अपडेट वर्जन के बारे में
  • 3. Opening Tomorrow
  • 4. अतिथि गृह का लोकार्पण कल, समाज के अग्रणी करेंगे शिरकत
  • 5. डिप्टी सेक्रेटरी बनने पर बधाई
  • 6. अब एक और हत्या....
  • 7. क्या वाकई नीम के दातुन की कीमत 65 रूपये
  • 8. टेनिस टूर्नामेंट में महेसाणा की वैदेही चौधरी विश्व चेम्पियन
  • 9. मदुरै आँजणा समाज द्वारा भूमि खरीदी
  • 10. मेसरा में धूमधाम से मनाई गुरु पूर्णिमा
  • 11. श्री महाराज का चातुर्मास आज से
  • 12. करोड़ों की कमाई कराने वाली चंदन की खेती कैसे करें, पूरी रिपोर्ट
  • 13. भजन संध्या आज
  • 14. विशाल रक्तदान शिविर 01 अगस्त को
  • Flash News: CAPS App Update on 15 August

    About Us

    इस ब्लॉग के सारे लेखों पर अधिकार सुरक्षित हैं इस ब्लॉग की सामग्री की किसी भी अन्य ब्लॉग, समाचार पत्र, वेबसाईट अथवा सोशियल साइड्स पर प्रकाशित एवं प्रचारित करते वक्त लेखक का नाम एवं लिंक देना जरुरी हैं।

    Advertisement

    श्री राधेकृष्ण व राजेश्वर भगवान के मंदिर प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का आगाज

    भीनमाल शहर के स्टेशन रोड स्थित आँजणा कलबी समाज छात्रावास में नवनिर्मित राधे-कृष्ण व राजेश्वर भगवान मंदिरो की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का आगाज आज कलश यात्रा के साथ हुआ।
          कलश यात्रा छात्रावास से रवाना होकर रामसीन रोड़, सूर्य मंदिर, तलबी रोड़, महावीर चौराहा, पीपली चौक, मुख्य बाजार, वराहश्याम मंदिर, गणेश चौक, महालक्ष्मी मंदिर रोड़, विवेकानंद चौराहा, खारी रोड़, माघ चौक, स्टेशन रोड़, अम्बेडकर सर्किल, रेलवे स्टेशन होते हुए छात्रावास पहुंची।
    कलशयात्रा मेंं सज-धज कर सिर पर कलश धारण किए चल रही बालिकाएं, रथ पर भगवान की मूर्ति को लेकर सवार चढ़ावों के लाभार्थी, भक्तिगीतों पर नाचते युवा, आसमान में उडता गुलाल, गुजंते राजेश्वर भगवान के जयकारौ से माहौल्ल भक्तिमय हो गया. इस मौके कई समाजबंधु मौजूद थे।
           कलशयात्रा में उमड़ा आस्था का सैलाब-राधे-कृष्ण व राजेश्वर भगवान मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की कलशयात्रा में आस्था का सैलाब उमड़ा. कलशयात्रा में युवक-युवतियां पारंपरिक वेशभूषा में सज-धजे नजर आए. कलशयात्रा का शहर में जगह-जगह स्वागत किया गया।
          पूरे दिन गुंजे मंत्रोच्चार-राधे-कृष्ण व राजेश्वर भगवान मंदिर की प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर मंदिर परिसर में पूरे दिन वैदिक मंत्रोच्चार गुंजते रहे, प्रतिष्ठा महोत्सव के तहत बुधवार को गणपति पूजन, पुष्य वाचन, मातूका पूजन, नांदी श्राद्ध, मंडप प्रवेश, आचार्य ब्राह्मण वरुण, जाजम बिछाना, विशाल जलयात्रा, प्रधान पीठ पूजन, अग्नि स्थापना, नवग्रह पूजन, योगिनी पूजन, क्षेत्रपाल पूजन, सांय पूजन के कार्यक्रम हुए।

    एक दिवसीय युवा संस्कार शिविर का आयोजन

    शिकारपुरा धाम पीठाधीश्वर परम् पूज्य प्रातः स्मरणिय गुरूवर श्री श्री 108 महन्त श्री दयारामजी महाराज के सानिध्य मे शिकारपुरा धाम में दिनाक 23/04/17 को युवा जागृति मंच के तत्वाधान मे युवा संस्कार कार्यशाला का सफल आयोजन हुआ जिसमे हजारो युवाओ की उपस्थिति रही।

    गुरुदेव ने अपने एक घण्टे से लम्बे उदबोधन मे युवाओ को आह्ववान किया कि समाज की एकता एवं अखंडता को बरक़रार रखते हुए समाज में व्यापत कुरीतियों को मिटाने के लिऐ हर युवा को यथासंभव प्रत्येक क्षेत्र में समाज के विकास के लिए अपना योगदान देना जरूरी है।

    गुरुदेव ने शिकारपुरा आश्रम परम्परा गुरु-शिष्य परम्परा का परिचय करवाया और ऐसी व्यवस्था को आत्मसात करते हुए हमे समाज कि दिशा व दशा का चिन्तन मंथन करना होगा और युवाओ को समाज के लिऐ निरन्तर दिपक कि भाती प्रकाशित होकर निरन्तर जलना होगा । तभी हम समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुच सकते है और समाज को अनन्त ऊंचाइयों तक पहुचा सकते है।

    युवा संस्कार कार्यशाला मे गुरुजी ने युवाओ से आहवान किया कि संघे शक्ति कलियुगे इस कलियुग के समय मे समाज को आगे बढाने के लिऐ सबसे बड़ी जरुरत है संगठन की ।

    युवाओ से विनती करते हुऐ कहा कि आप सभी अपनी अपनी राजनितिक विचारधाराऔ के लिऐ स्वतंत्र है। समस्त स्वतंत्र राजनितिक विचारधाराओ के बावजुद युवा आगे आये और समाज कि राजनितिक, आर्थिक, सामाजिक धार्मिक, बौध्दिक एवं सांस्कारिक स्थित एवं परिस्थिति को मजबुत करे ।

    इस मंच की यह प्रथम युवा संस्कार कार्यशाला थी। आगामी समय में गांव, तहसील, जिला एवं राज्य स्तरीय कार्यशालाओं का आयोजन किया जायेगा और हर परिवार ,गांव ,तहसील,जिला एवं राज्य स्तरीय सदस्यता के आधार पर सबकी अहम सहमति,भूमिका  योगदान एवं सुझाव आधारित कमिटियों का गठन किया जायेगा ।
    युवाओं को मंच प्रदान करने वाले इस समाज सेवी युवा जागृति मंच को मूर्त रूप दिया जायेगा ।

    बडा भया तो क्या भया जैसे पेड़ खजुर
    पक्षी को छाया नही फल लगे अति दुर
    गरुदेव ने अपने शालिन शब्दो मे समझाया कि समाज के अन्दर अपनी बहुत बड़ी हैसियत होने के बावजुद हम समाज को अपना यथासंभव योगदान नही दे सके तो समाज हमसे क्या उम्मिद रखेगा, इसलिऐ प्रत्येक व्यक्ती अपनी अपनी हैसियत मुताबित अर्थ तन मन धन से निजी स्वार्थ हितो को छोड़कर समाज हित को सर्वोपरी प्राथमिकता मानते हुऐ अपना सहयोग करे ।

    अन्त मे गागर मे सागर भरते हुऐ अपने समाज के हर परिवार को संत श्री  राजेश्वर भगवान के उपदेशो को आत्मसात करने का शुभाआशिश दिया ।

    इस मौके पर गुरुजी ने नशामुक्त समाज अभियान कि शुरुआत करते हुऐ सैकडौ युवाऔ के गले मे राजेश्वर भगवान का स्मृति चिन्ह पहनाकर नशा छोड़ने का संकल्प दिलाया ।

    कन्या गुरुकुल में वार्षिक उत्सव 26 को

    श्री राजेश्वर भगवान आँजणी माता कन्या गुरुकुल नया चेण्डा (पाली) का प्रथम वार्षिक उत्सव 26 अप्रैल 2017 बुधवार के दिन माँ सरस्वती के प्रागंण में सुबह 9.30 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक आयोजित किया जाएगा।
        वार्षिक उत्सव में कन्या गुरुकुल बालिकाओं द्वारा सरस्वती वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरुआत होगी बालिकाओं द्वारा सांस्कृतिक और धार्मिक प्रोग्राम की प्रस्तुति, सभी पधारे हुए अतिथियों एवं भामाशाहो का स्वागत एवं गुरुकुल की प्रतिभाशाली बालिकाओं को सम्मानित किया जायेगा।  प्रबंधकों द्वारा संबोधित कर गुरुकुल संबंधी जानकारी और धन्यवाद प्रस्ताव के साथ कार्यक्रम की समाप्ति होगी । 
        इस शुभ अवसर पर आप सादर आमंत्रित है समय पर पधारकर कार्यक्रम की शोभा बढावे।

    परम तपस्वी साध्वी श्री भगवतीबाईजी के आदेशानुसार इस समाचार को ही आमंत्रण पत्रिका समझकर कार्यक्रम में पधारकर हमें अनुग्रहित करें ।
         
    निवेदक - श्री राजेश्वर भगवान आँजणी माता धाम ट्रस्ट  नया चेण्डा पाली